जे भी बनारस आई खुश होके जाई: नरेन्द्र मोदी

गरीब मां का बेटा मोदी गरीबों का अपमान नहीं सहेगा

 
जे भी बनारस आई खुश होके जाई: नरेन्द्र मोदी

प्रधानमंत्री ने काशीवासियों को 12110 करोड़ रुपये के विकास परियोजनाओं की दी सौगात

मणिकर्णिका एवं हरिश्चंद्र घाट के पुनर्विकास का कार्य 35 करोड़ की लागत से कराया जायेगा

Varanasi News: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने दो दिवसीय वाराणसी दौरे पर शुक्रवार को 41वीं बार वाराणसी आए और हरहुआ के पास वाजिदपुर में जनसभा को संबोधित करते हुए अपने बीते नौ वर्षों में हुए विकास कार्यों को एक-एक कर गिनाया। साथ ही पूर्व की सरकारों पर जमकर निशाना साधा। 


     प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वाजिदपुर में जनसभा का संबोधन अन्नपूर्णा मईया की जय, गंगा मईया की जय के जयकारा से शुरुआत की। उन्होंने कहा कि गरीब मां का बेटा मोदी गरीबों का अपमान नहीं सहेगा। उन्होंने कहा कि सावन के महीने की शुरुआत हो और बाबा विश्वनाथ और मां गंगा का आशीर्वाद हो और बनारस के लोगों का साथ हो, तो जीवन बिल्कुल धन्य हो जाता है। उन्होंने बनारसियों से कहा कि आजकल काशी के लोग काफी व्यस्त है, क्योंकि काशी में काफी रौनक है। देश दुनिया से हजारों शिव भक्त यहां बाबा को जल चढ़ाने पहुंच रहे है। उन्होंने कहा कि इस बार तो सावन की अवधि ज्यादा है। इस बार बाबा के दर्शन को रिकॅार्ड तोड़ संख्या में श्रद्धालु आएंगे। इन सब के साथ एक बात तय है कि अब जे भी बनारस आई खुश होके जाई। उन्होंने जोर देते हुए कहा कि मुझे अब चिंता नहीं होती कि इतने लोग यहाँ आएंगे, कैसे मैनेज होगा, क्योंकि काशी के लोग सबको सब सिखा देते है उन्हों कुछ सीखाना नहीं पड़ता।


       प्रधानमंत्री ने कहा जी-20 के मेहमान काशी आए उनका काशी के लोगों ने इतना भव्य स्वागत किया कि पूरी दुनिया में उनकी वाहवाही हो रही है। मुझे भरोसा है काशी के लोग सब संभाल लेंगे। यहाँ के लोगों ने काशी विश्ननाथ धाम और परिसर को इतना भव्य बना दिया है, जो आ रहा है गदगद होकर जा रहा है। उन्होंने कहा जो काशी की आत्मा को बनाए रखते हुए नूतन काया का संकल्प लिया है, यह परियोजनाएं उसका विस्तार हैं। इनमें रेल, रोड, पानी, शिक्षा, टूरिज्म से जुड़े प्रोजेक्ट्स हैं, घाटों से जुड़े प्रोजेक्ट्स शामिल हैं। उन्होंने उद्घाटित व शिलान्यास हुए विकास कार्यों के लिए काशीवासियों बधाई दी।

जे भी बनारस आई खुश होके जाई: नरेन्द्र मोदी


      उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पावन सावन के माह में श्री काशी विश्वनाथ की धरा काशी को मेरी काशी के रूप में वैश्विक मंच पर पहचान दिलाने वाले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का स्वागत करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में आज भारत को दुनिया के अंदर एक नई पहचान व सम्मान मिल रहा है। उन्होंने कहा कि 140 करोड़ देशवासियों को उनका गौरव, सम्मान दिलाने वाले प्रधानमंत्री के अंतर्मन में काशी के लोग बसते हैं। इसीलिये प्रधानमंत्री मेरी काशी कहकर संबोधित करते हैं। उन्होंने कहा कि काशी अपने पुरातन कलेवर को समेटे हुए नवीन रूप में विकसित हुआ है। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में विगत 9 वर्षों में भारत दुनिया के अंदर इंफ्रास्ट्रक्चर, चिकित्सा, सैन्य आदि अलग-अलग क्षेत्रों में नई ऊंचाइयों को तय किया है।


       इससे पूर्व प्रधानमंत्री ने काशीवासियों को 12110 करोड़ रुपये के विकास परियोजनाओं की सौगात दी। उन्होंने हरहुआ-रिंग रोड मार्ग पर स्थित वाजिदपुर में आयोजित विशाल जनसभा में बटन दबाकर वाराणसी के सर्वांगीण जनसरोकारी विकास हेतु 10720 करोड़ की 19 परियोजनाओं का लोकार्पण तथा 1427 करोड़ की 10 परियोजनाओं का शिलान्यास किया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अपने कार्यकाल में 9 सालों में 41वीं बार शुक्रवार को अपने संसदीय क्षेत्र "काशी" आये। इतना ही नहीं प्रधानमंत्री का जब भी अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी आगमन होता हैं, तो यहां के लोगों की बिना मांगे मुराद पूरी होती हैं। काशी आगमन पर प्रधानमंत्री काशीवासियों को सौगात जरूर देते हैं। 

जे भी बनारस आई खुश होके जाई: नरेन्द्र मोदी


        प्रधानमंत्री द्वारा लोकार्पित की गयी परियोजनाओं में विकासोन्मुख वाराणसी तथा सीमांकित जनपदों में आगंतुकों की सुगमता हेतु रेल तंत्र एवं प्रणाली को और भी सुदृढ़ किए जाने हेतु 3900 करोड़ से अधिक की लागत से रेलवे लाइनों के विद्युतीकरण एवं दोहरीकरण तथा डेडिकेटेड फ़्रीट कॉरिडोर (डी0एफ़0सी0)की पं0 दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन से सोन नगर जंक्शन तक नई रेलवे लाइन का निर्माण कार्य कराया गया है। 3400 करोड़ से अधिक लागत से राष्ट्रीय राजमार्ग-56 (वाराणसी-जौनपुर मार्ग) का चार-लेन चौड़ीकरण तथा अन्य 18 सड़कों के निर्माण एवं नवीनीकरण कार्य से लखनऊ, सुल्तानपुर, अमेठी, रायबरेली जैसे शहरों से वाराणसी का सफ़र और भी सुविधाजनक होगा तथा व्यवसायिक गतिविधियों को भी बढ़ावा मिलेगा। विद्यार्थियों को सर्वांगीण एवं गुणवत्तापरक शिक्षा तथा सुदृढ़ व्यवस्था देने हेतु लगभग 100 करोड़ की लागत से काशी हिंदू विश्वविद्यालय परिसर में अंतरराष्ट्रीय गर्ल्स हॉस्टल समेत अन्य शैक्षणिक संस्थानों में वोकेशनल ट्रेनिंग सेंटर, आवासीय भवनों का निर्माण किया गया है।पुलिसकर्मियों तथा अग्निशमकों की सुविधा को सुदृढ़ किए जाने हेतु 19 करोड़ की लागत से आवासीय भवनों एवं आर्थिक अपराध अनुसंधान संगठन भवन का निर्माण कार्य के साथ साथ सीवेज, सड़क मरम्मत तथा वर्षा जल संचयन का भी कार्य किया गया है। 17.50 करोड़ की लागत से मोहन कटरा से कोनिया घाट तक सीवर लाइन का कार्य तथा रमना में आधुनिक सेप्टेज मैनेजमेंट सिस्टम का भी कार्य किया गया जिससे सीवर व्यवस्था का सुदृढ़ीकरण होगा तथा पवित्र गंगा नदी को प्रदूषण मुक्त रखने में भी सुविधा होगी।स्मार्ट सिटी मिशन अन्तर्गत स्नानार्थियों की सुविधा हेतु 99 लाख की लागत से फ्लोटिंग जेट्टी पर चेजिंग रूम बनाने का कार्य किया गया है तथा शहर में ब्रांडिंग एवं सौंदर्यीकरण के आशय से 30 स्थलों पर डबल-साइडेड बैकलिट एल0ई0डी0 यूनिपोल लगाए जाने का कार्य 3.5 करोड़ की लागत से किया गया है तथा हरित ऊर्जा को बढ़ावा देने तथा पर्यावरण के सतत विकास हेतु 23 करोड़ की लागत से बायो-गैस आधारित विद्युत उत्पादन संयंत्र का निर्माण किया गया है।


      जबकि शिलान्यास की गयी 10 परियोजनाओं में क्रमशः चौखंडी, क़ादीपुर एवं हरदत्तपुर रेलवे स्टेशन के निकट 172 करोड़ की लागत से 02 लेन आरओबी के निर्माण, 350 करोड़ की लागत से व्यासनगर-दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन पर रेल फ़्लाइओवर का निर्माण तथा अन्य 15 सड़कों के निर्माण एवं नवीनीकरण के कार्यों से वाराणसी के रेल तथा सड़क यातयात को सुव्यवस्थित एवं सुनियोजित करने की परिकल्पना मूर्त रूप लेगी।

जे भी बनारस आई खुश होके जाई: नरेन्द्र मोदी


जल जीवन मिशन ग्रामीण के तहत 555 करोड़ रूपये की लागत से 192 पेयजल योजनाओं का शुभारंभ होगा, जिसके माध्यम से 7 लाख से अधिक लोगों को शुद्ध पेयजल मिलेगा। महाश्मसान कहे जाने वाले वाराणसी के अतिप्राचीन मणिकर्णिका एवं हरिश्चंद्र घाट के पुनर्विकास का कार्य 35 करोड़ की लागत से कराया जाएगा, जिससे शवदाह हेतु आए लोगों को सुविधा होगी। 40 करोड़ की लागत से शास्त्रीघाट, चन्द्रावती घाट तथा सामने घाट का पुनर्विकास कार्य कराया जाना है, जिससे पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा तथा जनसुविधाएँ भी सुदृढ़ होंगी तथा स्मार्ट सिटी मिशन अन्तर्गत दशाश्वमेध घाट के तर्ज़ पर 6 अन्य घाटों पर भी 5.7 करोड़ की लागत से गंगा में तैरते हुए चेंजिंग रूम जेटी पर लगाए जाएँगे, जिससे स्नानार्थियों को सुविधा होगी।


        प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन से पूर्व जनसभा स्थल पर आवास, पीएम स्वनिधि के चुनिंदा तीस लाभार्थियों से संवाद किया। मंच पर पराग कुमार गुप्ता गोरखपुर, बंटी वर्मा मथुरा, मुन्नी देवी वाराणसी, उषा देवी भदोही, मुन्नी देवी मिर्जापुर को पीएम स्वनिधि योजना का प्रमाण पत्र, पीएम स्वनिधि में अधिक ट्रांजक्शन करने पर लखनऊ के विकास, प्रयागराज के पंकज कुमार व वाराणसी के मनीष कुमार को प्रशंसा पत्र के अलावा प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत वाराणसी की उर्मिला देवी, जौनपुर की प्रभावती देवी व चंदौली की अर्चना को आवास की चाभी तथा वाराणसी की सुमन देवी, जौनपुर के मोनू सरोज व भदोही की मंतोषा को आयुष्मान कार्ड उपलब्ध कराकर कुल 14 लाभार्थियों को योजना से लाभान्वित किया। इस प्रकार उन्होंने प्रधानमंत्री आवास के पांच लाख लाभार्थियों को सांकेतिक रूप से चाबी सौंपी। पीएम स्वनिधि योजना के 1.25 लाख पात्र लाभार्थियों को ऋण वितरण व पीवीसी आयुष्मान कार्ड लांच करते हुए 2.88 करोड़ लोगों के बीच कार्ड वितरण के कार्यक्रम का शुभारंभ किया।


     इससे पूर्व वाजिदपुर कार्यक्रम स्थल पर पहुचने पर प्रधानमंत्री ने 35 करोड़ की लागत से होने वाले मणिकर्णिका एवं हरिश्चंद्र घाट के पुनर्विकास कार्य के मॉडल का भी अवलोकन किया।


     कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने शाल भेटकर स्वागत किया।

जे भी बनारस आई खुश होके जाई: नरेन्द्र मोदी


         कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक, पर्यटन एवं संस्कृति व जनपद के प्रभारी मंत्री जयवीर सिंह, श्रम एवं सेवायोजन मंत्री अनिल राजभर, स्टाम्प एवं न्यायालय पंजीयन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) रविन्द्र जायसवाल, उत्तर प्रदेश के नगर विकास मंत्री ए0के0शर्मा, केंद्रीय मंत्री एस0पी0बधेल, आयुष एवं खाद्य सुरक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) दयाशंकर मिश्र 'दयालु', एमएलसी हंसराज विश्वकर्मा, पूर्व मंत्री एवं विधायक डॉ नीलकंठ तिवारी, विधायक डॉ अवधेश सिंह, विधायक सौरभ श्रीवास्तव, विधायक टी राम सहित अन्य लोगों ने भी संबोधित किया।


          इस अवसर पर केंद्रीय मंत्री डॉ महेंद्र नाथ पांडेय, जिला पंचायत अध्यक्ष पूनम मौर्य, महापौर अशोक तिवारी, विधायक सुनील पटेल, विधान परिषद सदस्य अशोक धवन, राज्यसभा सांसद सीमा द्विवेदी, महानगर अध्यक्ष विद्यासागर राय, अशोक चौरसिया, क्षेत्रीय मीडिया प्रभारी नवरतन राठी, सह मीडिया प्रभारी संतोष सोलापुरकर, पूर्व विधायक सुरेंद्र नारायण सिंह, नागेंद्र रघुवंशी, नवीन कपूर, जगदीश त्रिपाठी, संजय सोनकर, प्रवीण सिंह गौतम, प्रभात सिंह, नीरज जायसवाल, दिलीप साहनी, जेपी सिंह, सुरेंद्र पटेल, जेपी दुबे, शैलेंद्र मिश्रा, श्रीनिकेतन मिश्रा आदि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।


         इससे पूर्व लाल बहादुर शास्त्री अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पहुंचने पर उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी, कमिश्नर कौशल राज शर्मा सहित अन्य लोगों ने स्वागत किया।