Varanasi Water Taxi: गंगा में चलेगी देश की पहली वाटर टैक्सी, अस्सी से नमो घाट के बीच चलेगी वाटर टैक्सी

Varanasi Water Taxi: Country's first water taxi will run in Ganga, water taxi will run between Assi to Namo Ghat
 
Varanasi Water Taxi: गंगा में चलेगी देश की पहली वाटर टैक्सी, अस्सी से नमो घाट के बीच चलेगी वाटर टैक्सी

Varanasi Water Taxi: सावन में काशी आने वाले शिवभक्तों की काशीपुराधिपति के दर तक पहुंचने की राह सुगम होगी। सड़क के जाम से निजात के लिए प्रशासन नमोघाट और अस्सी घाट के बीच चार जुलाई से वाटर टैक्सी का संचालन शुरू कर रहा है। इसके लिए चार रूटों का चयन कर किराया तय कर दिया गया है।

यह वाटर टैक्सी एक फेरे में 86 श्रद्धालुओं को गंगा के रास्ते गंतव्य तक पहुंचाएगी। पूरे दिन में दो वाटर टैक्सी 10 फेरे पूरे करेगी।

गुजरात के भावनगर से मंगाई गई 10 वाटर टैक्सी में दो को गंगा में संचालन के लिए तैयार किया जा रहा है। नगर निगम ने अस्सी से नमो घाट, हरिश्चंद्र घाट से मणिकर्णिका घाट और श्रीकाशी विश्वनाथ कॉरिडोर से अस्सी घाट और नमो घाट तक चार रूट तय किए गए हैं।

सावन (Sawan) के बाद भी इन वाटर टैक्सियों का नियमित संचालन इन रूटों पर किया जाएगा। जलमार्ग प्राधिकरण ने भावनगर से मंगाई गई 10 वाटर टैक्सी वाराणसी जिला प्रशासन को दी थी। इसमें वाटर एंबुलेंस और शव वाहिनी के रूप में जलयानों को आरक्षित किया गया है। 


वाटर टैक्सी के संचालन के साथ ही इनकी समयसारिणी को सिटी बसों से जोड़ा जाएगा। नमो घाट तक चलाई जाने वाली सिटी बस के समय के हिसाब से ही इस घाट से वाटर टैक्सी काशी विश्वनाथ धाम के लिए रवाना होगी।

ऐसे ही अस्सी घाट की वाटर टैक्सी को अस्सी इलाके से गुजरने वाली सिटी बस से जोड़ा जाएगा।


 
वाटर टैक्सी का क्या है किराया

अस्सी घाट से नमो घाट 345

हरिश्चंद्र घाट से मणिकर्णिका घाट 125

काशी विश्वनाथ धाम कॉरिडोर से अस्सी घाट 175

काशी विश्वनाथ धाम कॉरिडोर से नमो घाट 175

एक नजर इधर भी

सुबह छह बजे से शाम छह बजे के बीच लगेंगे 10 फेरे। 

एक बार में वाटर टैक्सी में सवार होंगे 86 यात्री।


शिवभक्त सीधे गंगा के रास्ते करेंगे श्रीकाशी विश्वनाथ धाम में प्रवेश।

गंगा द्वार से नावों के संचालन की भी कराई जा रही तैयारी।


 
मंडलायुक्त कौशल राज शर्मा ने कहा है कि वाटर टैक्सी के संचालन की तैयारी पूरी कराई जा रही है। इसके लिए रूट और किराया तय कर लिया गया है। सावन की शुरुआत के साथ ही वाटर टैक्सी संचालित कर दी जाएगी।