माता सीता की मिथिला से हुई विदाई, इतना प्यार-सम्मान पाकर भावुक हुईं सीता मैया

 
माता सीता की मिथिला से हुई विदाई, इतना प्यार-सम्मान पाकर भावुक हुईं सीता मैया

रामानंद सागर की ‘रामायण’ के किरदारों की चर्चा अक्सर आपने सुनी होगा और अपने घरों में भी की होगा, लेकिन लॉकडाउन के दौरान इन किरदारों को फिर से एक बार टीवी पर देखे लोग खुश हो गए।

वहीं, दोबारा प्रसारण के बाद एक बार फिर से सभी किरदार सुर्खियों में छा गए। उस दौर में रामायण टीवी के सबसे बड़े टीवी शोज में गिना गया, जिसके लिए लोग हाथ जोड़ बैठे रहते थे। आज एक बार फिर ये सिद्ध हो गया कि कैसे लोग उन्हें आज भी भगवान की तरह ही मानते हैं।


इस वीडियो को शेयर करते हुए एक्ट्रेस ने लिखा, ‘मिथिला में सीताजी की विदाई। उन्होंने मुझे यह महसूस कराने के लिए सब कुछ किया कि मैं उनकी बेटी हूं। मैं तो रामायण के काल में खुद को खो दिया।’


इसके बाद उन्होंने एक और वीडियो शेयर किया है, जिसमें उन्होंने बताया कि इस सम्मान को पाने के बाद कैसे उनकी आंखे नम हो गईं। उन्होंने कहा, ‘क्या बोलूं. इतना प्यार दिया यहां कि मेरी आंख भर आई हैं। उन्होंने मुझे ये दिया और पानी दिया। क्योंकि कहते हैं घर से बेटी सूखा गला करके विदा नहीं होती और खाली गोद नहीं जाती, क्योंकि उन्हें लगता है कि मैं सीताजी हूं. हे भगवान।’


दोनों वीडियो को देख फैंस अब रिएक्ट कर रहे हैं। कोई कह रहा है कि वो इस सम्मान की हकदार हैं। तो कोई फैंस ने लिखा- जिसने माता सीता के सुंदर अद्भुत रूप को निश्चल भाव से दिल से आत्मा से जीवंत साकार कर परदे पर उतार दिया, वहीं तो इस प्रेम की सच्ची अधिकारी हैं।


रामानंद सागर की ‘रामायण’ के कुछ पात्र आज भी इंडस्ट्री में एक्टिव हैं, तो कई सोशल मीडिया पर फैंस से रुबरू होता है, तो कुछ ऐसे भी हैं जो दुनिया को अलिवदा कह चुके हैं।

 खुद ‘रामायण’ के ‘राम’ अरुण गोविल और ‘सीता’ दीपिका चिखलिया इस बात का बता चुकी हैं कि कैसे लोग उन्हें ही भगवान मानकर पूजते हैं। हाल ही में उन्होंने दो वीडियो शेयर किया और बताया कि मिथिला से जब उनकी विदाई हुई तो क्यों उनकी आंखे नम हो गईं।

दीपिका चिखलिया सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहती हैं। अपनी पुरानी यादों के साथ अक्सर वह अपनी लाइफ के बेस्ट पार्ट को फैंस के साथ शेयर करती हैं। दीपिका को लोग आज भी मां सीता कहते हैं। हाल ही में वह मिथिला पहुंचीं, जहां उन्होंने खूब सम्मान मिला। वापस लौटने लगी तो एक बेटी की तरह मिथिला वासियों ने विदाई की, वो देखकर वो भावुक हो गईं. उन्होंने दो वीडियो पोस्ट किए हैं।

मिथिला वह किसी काम से पहुंचीं, ये तो उन्होंने नहीं शेयर किया। लेकिन विदाई के दौरान एक महिला बिलकुल वैसे ही उन्हें विदा कर रही हैं, जैसे मां या भाभी घर की बेटी को। नम आंखों के साथ वो महिला दीपिका को पानी पिलाती हैं और गोद खाली न रहे, इसलिए उनकी कमर में कुछ थैला-जैसा बांधती हैं। इसके बाद वो दोनों भावुक हो जाते हैं और गले मिलते हैं।