India GDP Growth Rate: देश की GDP वित्त वर्ष 2022-23 में सालाना आधार पर 7 प्रतिशत की दर से बढ़ेगी, NSO ने जारी किया अग्रिम अनुमान

 
India GDP Growth Rate: देश की GDP वित्त वर्ष 2022-23 में सालाना आधार पर 7 प्रतिशत की दर से बढ़ेगी, NSO ने जारी किया अग्रिम अनुमान

GDP estimate: देश की आर्थिक वृद्धि दर (GDP) चालू वित्त वर्ष 2022-23 में सालाना आधार पर 7 प्रतिशत की दर से बढ़ेगी। GDP देश की सीमा में निश्चित अवधि में उत्पादित वस्तुओं और सेवाओं के कुल मूल्य को बताता है।

राष्ट्रीय सांख्यिकीय कार्यालय (NSO) 2022-23 के लिए आर्थिक वृद्धि का पहला अग्रिम आकलन (FAE) 6 जनवरी (शुक्रवार) शाम को जारी किया गया। इसके तीन हफ्ते बाद, एक फरवरी को लोकसभा में बजट पेश होगा।

राष्ट्रीय सांख्यिकीय कार्यालय (NSO) के अनुसार, ‘‘स्थिर मूल्य (2011-12) पर GDP 2022-23 में 157.60 लाख करोड़ रुपये रहने की संभावना है जबकि 31 मई, 2022 को जारी 2021-22 के अस्थायी अनुमान में इसके 147.36 लाख करोड़ रुपये रहने का अनुमान लगाया गया था।’’

आपको बता दें दिसंबर 2022 में, भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने चालू वित्त वर्ष के लिए देश की वास्तविक सकल घरेलू उत्पाद (GDP) वृद्धि के अनुमान को पहले के सात फीसदी से घटाकर 6.8 फीसदी कर दिया था।

ऐसा भूराजनीतिक तनाव और वैश्विक वित्तीय परिस्थितियों के मद्देनजर किया गया था। वहीं अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष (IMF) ने भी भारत की वृद्धि के अनुमान को पहले के 7.4 फीसदी से घटाकर 6.8 फीसदी कर दिया था।

आय का पहला अग्रिम अनुमान कितना महत्वपूर्ण

चालू वित्त वर्ष के लिए राष्ट्रीय आय का पहला अग्रिम अनुमान (FAE) बहुत महत्वपूर्ण होता है। FAE पहली बार वर्ष 2016-17 में पेश किया गया था, इसे आमतौर पर जनवरी के पहले सप्ताह के अंत में प्रकाशित किया जाता है।

यह सरकार की ओर से जारी आधिकारिक अनुमान हैं कि उस वित्तीय वर्ष में जीडीपी कैसे बढ़ने की उम्मीद है।


इसके अलावा ये “अग्रिम” अनुमान भी हैं क्योंकि इन आंकड़ों का उपयोग अगले वित्त वर्ष के लिए केंद्र सरकार के बजट को तैयार करने के लिए किया जाता है।

FAE तीसरी तिमाही या Q3 (अक्तूबर, नवंबर, दिसंबर) की समाप्ति के तुरंत बाद प्रकाशित होता है। लेकिन इसमें औपचारिक Q3 जीडीपी डेटा शामिल नहीं होता है।

बजट 2023-24 में होगा इन्हीं अनुमानों का इस्तेमाल

राष्ट्रीय सांख्यिकीय कार्यालय (NSO) द्वारा शुक्रवार को वित्त वर्ष 2022-23 के लिए जारी राष्ट्रीय आय का पहला अग्रिम अनुमान के आधार पर वित्त वर्ष 2023-24 का बजट तैयार किया जाएगा।

सुकरवार को NSO के ताजा आंकड़ों में जीडीपी विकास दर का जो अनुमान पेश किया है, वह पिछले महीने यानी दिसंबर 2022 में रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) की तरफ से जारी अनुमानों से थोड़ा बेहतर है।

28 फरवरी 2023 को आएगा दूसरा अग्रिम अनुमान

वर्ष 2022-23 के लिए राष्ट्रीय आय का दूसरा अग्रिम अनुमान और अक्टूबर-दिसंबर, 2022 के लिए तीसरी तिमाही का जीडीपी अनुमान, पहले संशोधित के साथ तथा राष्ट्रीय लेखा के वर्ष 2021-22 के लिए पहला संशोधित अनुमान, 2020-21 के लिए द्वितीय संशोधित अनुमान और 2019-20 के लिए तृतीय संशोधित अनुमान 28 फरवरी 2023 को जारी किए जाएंगे।